This beautiful ghazal 'Maine Teri Aankhon Mein Padha Allah Hi Allah' has written by Bashir Badr.



Difficult Words 
कोनेन = दोनो जहाँ।
तख्ती = एक प्रकार का स्लेट जिसमें छोटे बच्चे लिखने का अभ्यास करते हैं।
हम्दोसना = प्रार्थना या तारीफ।
सफें = कतारें।
निदा = आवाज।
यासीन = कुरान शरीफ आयात।
रिदा = चादर।


Maine Teri Aankhon Mein Padha Allah Hi Allah


Maine teri aankhon mein padha Allah hi Allah
Sab bhool gaya yaad raha Allah hi Allah

Phoolon mein basi chaandani raaton ki namaazein
Shabnam mein basi sitaron ki dua, Allah hi Allah

Ik phool ne konen ki daulat mujhe de di
Aansoo se hatheli pe likha Allah hi Allah

Hum log isi paak samandar ki lahren hai
Laa haath mere haath mein laa Allah hi Allah

Ik naam ki takhti ka shauk hua tha
Pani pe hawaaon ne likha Allah hi Allah

Baadal ki ibaadat hai, barsata hua pani
Aansoo ki ghazal humdosana Allah hi Allah

Pedon ki safen tere fariston ki kitaaben
Khaamosh pahaadon ki nida Allah hi Allah

Wo sure yaasin ke kaafoor ki khusboo
Mahke hue phoolon ki rida  Allah hi Allah

                                      – Bashir Badr


मैंने तेरी आँखों में पढ़ा अल्लाह ही अल्लाह
(In Hindi)

मैंने तेरी आँखों में पढ़ा अल्लाह ही अल्लाह
सब भूल गया याद रहा अल्लाह ही अल्लाह।

फूलों में बसीं चांदनी रातों की नमाजें
शबनम में सितारों की दुआ, अल्लाह ही अल्लाह।

इक फूल ने कोनेन की दौलत मुझे दे दी
आँसू से हथेली पे लिखा अल्लाह ही अल्लाह।

हम लोग इसी पाक समन्दर की लहरें है
ला हाथ मेरे हाथ में ला अल्लाह ही अल्लाह।

इक नाम की तख्ती का शौक हुआ था
पानी पे हवाओं ने लिखा अल्लाह ही अल्लाह।

बादल की इबादत है, बरसता हुआ पानी
आँसू की गजल हम्दोसना अल्लाह ही अल्लाह।

पेड़ों की सफें तेरे फरिश्तों की किताबें
खामोश पहाड़ों की निदा अल्लाह ही अल्लाह।

वो सूरे यासीन के काफूर की खुश्बू
महके हुए फूलों की रिदा अल्लाह ही अल्लाह।

                                            – बशीर बद्र