One Sided Love | Crush | Dr. Aman Chugh | The Social House Poetry | Whatashort


The Social House Poetry | Whatashort, Love Poetry, Beautiful poetry in Hindi, कुछ वक्त ही खराब होगा शायद उनका  जो करीब आकर दिल से उतर जाते होंगे  तजुर्बा इंसान को कितना बदल देता है  लोग बूढ़े ऐसे ही तो नहीं हो जाते होंगे

Poetry Credit:

Poetry Title – One Sided Love
Written By – Dr. Aman Chugh


One Sided Love Story Poetry

मेरे हाल को देख कर मुस्कुराते होंगे
मेरे हाल को देख कर मुस्कुराते होंगे
मुमकिन है उन्हें अपने दिन याद आते होंगे
हम उन्हें देखकर शरमा जाते हैं
हम उन्हें देखकर शरमा जाते हैं
न जाने वो किसे देखकर शरमाते होंगे

और इतना आसान नहीं है उनके दिल का रास्ता
इतना आसान नहीं उनके दिल का रास्ता
खुशनसीब ही दिल तक पहुंच पाते होंगे
और जबरदस्ती करीब जाने को जी नहीं चाहता
जबरदस्ती करीब जाने को जी नहीं चाहता
वो खास लोगों को ही पास बुलाते होंगे
और हमें मौका नहीं मिलता नजदीक जाने का
हमें मौका नहीं मिलता नजदीक जाने का
कितने बेवकूफ होंगे वो जो उन्हें छोड़ जाते होंगे

कि कुछ वक्त ही खराब होगा शायद उनका
कुछ वक्त ही खराब होगा शायद उनका
जो करीब आकर दिल से उतर जाते होंगे
तजुर्बा इंसान को कितना बदल देता है
लोग बूढ़े ऐसे ही तो नहीं हो जाते होंगे
लोग बूढ़े ऐसे ही तो नहीं हो जाते होंगे

नींद तो आए पर ख्वाब ना हो 
आंख तो खुले पर काम ना हो
सफर गुजरता है सन्नाटे सागर,
साथ में हो कोई पर कोई बात ना हो
चांद पूरा हो पर चांदनी रात ना हो
पतझड़ हो पर पेड़ों पर पात ना हो
रूखे सूखे तूफानों का क्या फायदा,
बारिश का मौसम हो और बरसात ना हो
कदम रास्ते पर हो मंजिलों की पहचान ना हो
पंछी उड़ान भरे और आसमान ना हो
कैसा वो काम जो जिंदगी मांग ले
कैसा वो काम जो जिंदगी मांग ले
जेब में पैसा तो दे पर आराम ना हो

लिखने का मन तो हो पर ख्याल ना हो
रोने का मन तो हो पर दिल में जज्बात ना हो
और किस काम की वो अधूरी सी मोहब्बत
किस काम की वो अधूरी सी मोहब्बत
मेहबूब सामने तो हो पर साथ ना हो


                                                – Dr. Aman Chugh